By heygobind Date June 24, 2022

वैदिक पंचांग ~ 🌞 🌤️ दिनांक - 26 जून 2022 🌤️ दिन - रविवार 🌤️ विक्रम संवत - 2079 (गुजरात-2078) 🌤️ शक संवत -1944 🌤️ अयन - दक्षिणायन 🌤️ ऋतु - वर्षा ऋतु 🌤️ मास -आषाढ़ (गुजरात एवं महाराष्ट्र के अनुसार -ज्येष्ठ) 🌤️ पक्ष - कृष्ण 🌤️ तिथि - त्रयोदशी 27 जून रात्रि 03:25 तक तत्पश्चात चतुर्दशी ...

Read More

By heygobind Date June 13, 2022

~ वैदिक पंचांग ~ 🌞 🌤️ दिनांक - 25 जून 2022 🌤️ दिन - शनिवार 🌤️ विक्रम संवत - 2079 (गुजरात-2078) 🌤️ शक संवत -1944 🌤️ अयन - दक्षिणायन 🌤️ ऋतु - वर्षा ऋतु 🌤️ मास -आषाढ़ (गुजरात एवं महाराष्ट्र के अनुसार -ज्येष्ठ) 🌤️ पक्ष - कृष्ण 🌤️ तिथि - द्वादशी 26 जून रात्रि 0109 तक तत्पश्चात त्रयोदशी ...

Read More

By heygobind Date August 8, 2021

युधिष्ठिर ने कहा: हे मधुसूदन! श्रावन के शुक्ल पक्ष की एकादशी का क्या नाम है? कृपा करके इस एकादशी वर्णन कीजिये। भगवान श्री कृष्णजी ने कहा: राजन! प्राचीन समय की बात है। द्वापर युग की शुरुआत का समय था। माहिष्मतीपुर में राजा महीजित उसके राज्य का पालन करता था लेकिन उसका कोई पुत्र नहीं था, जिससे राज्य उसे अच्छा नहीं लग रहा था। प्रजावर्ग में ब...

Read More

By heygobind Date June 9, 2021

Ekadashi Upvaas might be vital & useful for all householders. Upvaas manner Up-Vaas i.e., to measure near God. the rationale of fasting is to enjoy peace & bliss. Eating much less permits the mind & frame to feature extra effectively. Rules of Ekadashi Vow On the already dark of Dashami, workout whole celibacy and abstain from world...

Read More

By heygobind Date June 5, 2021

 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ ⛅ *दिनांक 18 जून 2021*⛅ *दिन - शुक्रवार*⛅ *विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077)*⛅ *शक संवत - 1943*⛅ *अयन - उत्तरायण*⛅ *ऋतु - ग्रीष्म*⛅ *मास - ज्येष्ठ*⛅ *पक्ष - शुक्ल*⛅ *तिथि - अष्टमी रात्रि 08:39 तक तत्पश्चात नवमी*⛅ *नक्षत्र - उत्तराफा...

Read More

प्यारी माँ

प्यारी माँ

परम् प्रेम | राम सीता और लक्ष्मण वन से जा रहे थे। वन का मार्ग संकरा था केवल एक ही ही मनुष्य चलने लायक छोड़ था।

परम् प्रेम | राम सीता और लक्ष्मण वन से जा रहे थे। वन का मार्ग संकरा था केवल एक ही ही मनुष्य चलने लायक छोड़ था।

पांच प्रेत…पृथु एक भक्त ब्राम्हण था। वह रोज हरिभक्ति में तल्लीन रहता था। वह प्रभुजी को बहुत प्रेम करता था

पांच प्रेत…पृथु एक भक्त ब्राम्हण था। वह रोज हरिभक्ति में तल्लीन रहता था। वह प्रभुजी को बहुत प्रेम करता था

श्री राम स्तुति | श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन हरण भवभय दारुणं

श्री राम स्तुति | श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन हरण भवभय दारुणं

गुड़ सेवन करने से लाभ,

गुड़ सेवन करने से लाभ,

कढ़ी पत्ता जैसे की नाम से ही पता चलता हैं की ये कढ़ी में डाला जाता हैं इसलिए इसका नाम कढ़ी पत्ता रखा गया हैं।

कढ़ी पत्ता जैसे की नाम से ही पता चलता हैं की ये कढ़ी में डाला जाता हैं इसलिए इसका नाम कढ़ी पत्ता रखा गया हैं।

मट्ठा बहुत ही लाभकारी हैं, पित्तनाशक और वात को नष्ट करनेवाली होती हैं

मट्ठा बहुत ही लाभकारी हैं, पित्तनाशक और वात को नष्ट करनेवाली होती हैं

तुलसीदास जी और चोर….तुलसीदास जी एक बार रात्रि को आ रहे तभी उनको कुछ चोर मिल गए।

तुलसीदास जी और चोर….तुलसीदास जी एक बार रात्रि को आ रहे तभी उनको कुछ चोर मिल गए।

Hindu Panchang

Hindu Panchang

Putrada Ekadashi || पुत्रदा एकादशी

Putrada Ekadashi || पुत्रदा एकादशी

top