By heygobind Date August 10, 2022

Rakshabandhan 2022 Shubh Muhurat वैदिक रक्षाबंधन - 2022 🌹 पूर्णिमा तिथि 11 अगस्त को सुबह 10-38 पर प्रारम्भ होकर 12 अगस्त को सुबह 7-05 पर समाप्त हो रही है । भद्रा 11 अगस्त को सुबह 10-38 पर प्रारम्भ होकर रात्रि 8-53 पर समाप्त होगी । शास्त्रों में भद्राकाल में राखी बाँधना वर्जित बताया है । राखी बाँधने के शुभ मुहुर्त 11 अगस्...

Read More

By heygobind Date August 10, 2022

रक्षाबंधन के दिन 🌷 rakshabandhan 2022 ➡ 11 अगस्त 2022 गुरुवार को रक्षाबंधन है । 🙏🏻 यदि आप भी इस रक्षाबंधन पर धन व व्यापार से जुड़ी सभी परेशानियां खत्म करना चाहते हैं तो अपनाएं ये ज्योतिष शास्त्र के आसान उपाय... ➡ रक्षाबंधन पर करें इन 10 में से कोई 1 काम, हमेशा भरी रहेगी तिजोरी Rakshabandhan 2022 👉🏻 व्यापार वृद्धि के लिए

Read More

By heygobind Date March 30, 2022

नवरात्रि महिषासुर मां दुर्गा का त्यौहार हैं। उनकी स्तुति इस प्रकार की जाती है। सर्वमंगलमांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके। शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोऽस्तुते। अर्थ: सर्वमंगल सभी वस्तु में मंगल-रूप, कल्याण-दायिनी, शरणागतों का रक्षण करनेवाली, सर्व-पुरुषार्थ साध्य करानेवाली, हे त्रिनयने, गौरी मां, हे नारायणी! आपको मेरा बारम्बार नम...

Read More

By heygobind Date March 29, 2022

ईश्वर स्वयं को अनेक रूपों में प्रकट करता है। इन्हीं में से एक है मां का। शक्ति, करुणा, क्षमा और परोपकार के रूप में सर्वोच्च ब्रह्म की अभिव्यक्ति को माँ (माँ) कहा गया है और नवरात्रि माँ के विभिन्न रूपों की पूजा और पूजा करने का समय है। Chaitra Navratri 2022 माता की कृपा असीम है। उसकी दया असीम है, उसका ज्ञान अनंत है; उसकी शक्ति अथाह है, उसकी ...

Read More

By heygobind Date February 28, 2022

महाशिवरात्रि का व्रत, पूजन, जागरण और उपवास करनेवाले की सभी मनोकामनाएं पूरी होती है शिवरात्रि के दिन व्रत की शुरुआत ये श्लोक बोल के शुरू करें :- देव देव महादेव नीलकंठ नमोस्तुते l कर्तुम इच्छा म्याहम प्रोक्तं, शिवरात्रि व्रतं तव ll काल सर्प के लिए महाशिवरात्रि के दिन घर के मुख्य दरवाजे पर पिसी हल्दी से स्वस्तिक बना देना....शिवलिंग पर दूध और ब...

Read More

By heygobind Date August 28, 2021

🌷 श्रीकृष्ण-जन्माष्टमीव्रत की कथा एवं विधि 🌷➡ 30 अगस्त 2021 सोमवार को जन्माष्टमी है ।🙏 भविष्यपुराण उत्तरपर्व अध्याय – २४🙏 राजा युधिष्ठिर ने कहा – अच्युत ! आप विस्तार से (अपने जन्म-दिन) जन्माष्टमी व्रत का विधान बतलाने की कृपा करें |🙏 भगवान् श्रीकृष्ण बोले – राजन ! जब...

Read More

By heygobind Date June 19, 2021

युधिष्ठिर जी ने कहा "हे जनार्दन! ज्येष्ठ मास के शुक्लपक्ष में जो एकादशी आती है, कृपया उसका मार्गदर्शन कीजिये। भगवान श्री कृष्ण जी बोले:  हे युधिष्ठिर "धर्मात्मा श्री व्यास जी ने जो सम्पूर्ण शास्त्रों के वेद वेदांगों के पारंगत है उन्होंने निर्जला एकादशी का महत्व इस प्रकार कहा।श्री वेदव्यास जी ने कहा "जो दोनों ही...

Read More

By heygobind Date April 18, 2021

कामदा एकादशी, Kamada Ekadashi युधिष्ठिर ने कहा: हे वासुदेव! आपको बारम्बार नमस्कार! कृपया करके आप हमको बताइये कि चैत्रमाह के शुक्ल पक्ष में कौनसी एकादशी आती हैं?श्रीकृष्णजी बोले: हे राजन् ! आप एकाग्र होकर यह कथा सुनो, जिसको वशिष्ठजी ने राजा श्री दिलीप के प्रश्न पूछने पर कहा था ।वशिष्ठजी ने कहा: हे राजन्! चैत्र के शुक्ल पक्ष में कामदा एकादशी आती ...

Read More

By heygobind Date April 12, 2021

2021, Chaitra Navratri start from April 13, 2021, and would end on April 22, 2021. नवरात्रि पूजन विधि Vavratri 2021🌷 ➡ 13 अप्रैल 2021 मंगलवार से नवरात्रि प्रारंभ। 🙏🏻 नवरात्रि के प्रत्येक दिन माँ भगवती के एक स्वरुप श्री शैलपुत्री, श्री ब्रह्मचारिणी, श्री चंद्रघंटा, श्री कुष्मांडा, श्री स्कंदमाता, श्री कात्यायनी, श्री कालरात्रि, ...

Read More

By heygobind Date March 8, 2021

युधिष्ठिर जी  ने कहा : हे वासुदेव, फाल्गुन के कृष्णपक्ष में कौन सी एकादशी आती हैं और कृपया व्रत करने की विधि क्या है? श्री वासुदेव जी ने कहा: युधिष्ठिर! एक समय संत नारदजी ने ब्रह्मा जी से फाल्गुन में कृष्णपक्ष की विजया एकादशी के व्रत का माहात्म्य पूछा था तथा श्री ब्रह्माजी ने जो इस व्रत की विधि बतायी थी, उसे सुनो :ब्रह्माजी ने कहा: नारद जी ! यह ...

Read More

नेत्र की ज्योति को बढ़ाने के लिए प्रयोग

नेत्र की ज्योति को बढ़ाने के लिए प्रयोग

Rakshabandhan 2022 Shubh Muhurat

Rakshabandhan 2022 Shubh Muhurat

प्रभुजी का हंसता मुख | एक परिवार में सास और बहु थे। जो सास थी वो रोज ठाकुरजी की पूजा करती थी बड़े ही नियम और ध्यान से।

प्रभुजी का हंसता मुख | एक परिवार में सास और बहु थे। जो सास थी वो रोज ठाकुरजी की पूजा करती थी बड़े ही नियम और ध्यान से।

जया एकादशी…..माघ मास में शुक्लपक्ष में कौन सी एकादशी आती हैं, और उसका पूजन एवं एकादशी की विधि क्या है

जया एकादशी…..माघ मास में शुक्लपक्ष में कौन सी एकादशी आती हैं, और उसका पूजन एवं एकादशी की विधि क्या है

आवश्यक मंत्र | हम जब भी सुबह उठते हैं तो सबसे पहले हमें अपने दोनों हथेलियों को देखकर ये मन्त्र बोलना चाहिए

आवश्यक मंत्र | हम जब भी सुबह उठते हैं तो सबसे पहले हमें अपने दोनों हथेलियों को देखकर ये मन्त्र बोलना चाहिए

कुछ बातें | मनुष्य जीवन के समय को अमूल्य समझकर उत्तम से-उत्तम कार्य में व्यतीत करना चाहिए

कुछ बातें | मनुष्य जीवन के समय को अमूल्य समझकर उत्तम से-उत्तम कार्य में व्यतीत करना चाहिए

प्राणायाम करने के लाभः प्राणायाम करने से आरोग्यता, प्रसन्नता आदि  बढ़ जाती हैं

प्राणायाम करने के लाभः प्राणायाम करने से आरोग्यता, प्रसन्नता आदि  बढ़ जाती हैं

श्री राम स्तुति | श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन हरण भवभय दारुणं

श्री राम स्तुति | श्री रामचन्द्र कृपालु भजुमन हरण भवभय दारुणं

पांच प्रेत…पृथु एक भक्त ब्राम्हण था। वह रोज हरिभक्ति में तल्लीन रहता था। वह प्रभुजी को बहुत प्रेम करता था

पांच प्रेत…पृथु एक भक्त ब्राम्हण था। वह रोज हरिभक्ति में तल्लीन रहता था। वह प्रभुजी को बहुत प्रेम करता था

भाभी ! नेक अपना चेहरा तो देखाय दे! मथुरा के निकट एक गाँव में एक छोटी लड़की रहती थी और उसका मन ठाकुर जी के दर्शन करने के थी……

भाभी ! नेक अपना चेहरा तो देखाय दे! मथुरा के निकट एक गाँव में एक छोटी लड़की रहती थी और उसका मन ठाकुर जी के दर्शन करने के थी……

top